Sharmik Sulabh Awas Yojana: श्रमिक सुलभ आवास योजना के तहत सरकार गरीबों को घर बनाने के लिए पैसे देगी

Google News Button

Sharmik Sulabh Awas Yojana श्रमिक सुलभ आवास योजना संपूर्ण राजस्थान में प्रभावी रूप से लागू है। तथा गरीबों और मजदूरों के लिए यह योजना बहुत ही फायदेमंद है। इस योजना के तहत आवेदन करने वाले प्रत्येक श्रमिक को आवास निर्माण हेतु 1.50 लाख रुपए तक का अनुदान दिया जाएगा।

Sharmik Sulabh Awas Yojana

अगर आपके पास में पक्का मकान नहीं है और आप मकान बनाना चाहते हैं तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है। सरकार अब श्रमिक सुलभ योजना के तहत सभी गरीबों को 1.50 लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता देगी। अगर कोई भी जरूरतमंद₹5 लाख तक का निर्माण करना चाहता है तो सरकार उसे 25% तक का अनुदान देगी।

Sharmik Sulabh Awas Yojana आवश्यक दस्तावेज

श्रमिक सुलभआवास योजना के लिए आवेदक के पंजीयन प्रमाण पत्र की स्व प्रमाणित प्रति, अभ्यर्थी के बैंक पासबुक की फोटो कॉपी, आवेदक का आधार कार्ड की फोटो कॉपी, जन आधार कार्ड या भामाशाह कार्ड होना चाहिए।

आवेदक बीपीएल कैटेगरी का होना चाहिए। अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी (यदि लागू हो तो), विशेष योग्यजन के प्रमाण पत्र की सब प्रमाणित प्रति (यदि लागू हो तो), यदि कोई पालनहार योजना माता है तो उसका प्रमाण पत्र की स्व प्रमाणित प्रति,
और जिनके केवल दो पुत्रियां हो उनके लिए भी लागू।

आवेदन करने वाले श्रमिक की आय प्रमाण पत्र की स्वप्रमाणित प्रति, जमीन के मलिक हैक होने की पुष्टि होने का प्रमाण पत्र, जमीन कोई भी विवाद में नहीं होनी चाहिए इसके लिए राजस्व अधिकारी का प्रमाण पत्र जरूरी है।

Sharmik Sulabh Awas Yojana की पात्रता

श्रमिक सुलभ आवास योजना की पात्रता के लिए श्रमिक को कम से कम एक वर्ष से हिताधिकारी के रूप में पंजीकृत श्रमिकों तथा अंशदान जमा कराया गया हो। यदि श्रमिक के स्वयं के जमीन पर मकान बनाना है तो खुद का या पत्नी का मालिकाना हक का प्रमाण पत्र जरूरी है। जिस जमीन पर आवास बनाना हो वह आवास विवाद रहित होना चाहिए बंधक रहित होना चाहिए बैंक से ऋण नहीं होना चाहिए।

Anganwadi Vacancy 2024: आंगनवाड़ी में बिना परीक्षा भर्ती, नोटिफिकेशन जारी, योग्यता 10वीं पास, आवेदन 12 जनवरी तक

श्रमिक सुलभ आवास योजना के लिए मुख्यमंत्री जन आवास योजना या अन्य किसी आवास योजना के लिए आवास प्राप्त करने की सभी शर्तें और पात्रता पूरी करता हो। श्रमिक पंजीकृत हिताधिकारी है या नहीं इसकी जांच या पुष्टि श्रम विभाग के द्वारा की जाएगी। केंद्र सरकार अथवा राज्य सरकार में कोई भी आवास योजना के लिए आवास प्राप्त करने की पात्रता की जांच आवास योजना से संबंधित अन्य विभाग या एजेंसी तथा नगरीय विकास विभाग द्वारा की जाएगी।

Sharmik Sulabh Awas Yojana का लाभ

श्रमिक सुलभ आवास योजना का लाभ सभी आवेदन करने वाले पात्र श्रमिकों को दिया जाएगा। इस योजना के तहत लाभार्थी श्रमिकों को अधिकतम 1.50 लाख रुपए तक की सीमा में अनुदान दे होगा।

यदि भूखंड स्वयं श्रमिक का है और वह उस पर आवास निर्माण कर रहा है जो अधिकतम 5 लाख तक निर्माण लागत की सीमा में वास्तविक निर्माण लागत का 25% तक सरकार द्वारा अनुदान दिया जाएगा।

Sharmik Sulabh Awas Yojana के लिए वरीयता

श्रमिक सुलभआवास योजना का लाभ सभी पात्र श्रमिकों को दिया जाएगा। इसमें पात्र श्रमिकों के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना जरूरी है। इस योजना के लिए निम्नलिखित अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दी जाएगी।

बीपीएल कैटेगरी के श्रमिकों को, अनुसूचित जनजाति तथा अनुसूचित जाति के श्रमिकों को, विशेष योग्य जनों को, केवल दो पुत्री वाले लाभार्थी को, पालनहार योजना में पंजीकृत महिला या परिवार को, 1 वर्ष या उससे अधिक वर्षों से मंडल में पंजीकृत हिताधिकारी को वरीयता दी जाएगी।

Sharmik Sulabh Awas Yojana के लिए आवेदन प्रक्रिया

श्रमिक सुलभ आवास योजना के लिए अभ्यर्थी ऑनलाइन मोड और ऑफलाइन मॉड दोनों तरीकों से आवेदन कर सकता है। अभ्यर्थी को भरे हुए आवेदन फार्म को अपने स्थानीय श्रम कार्यालय में जमा करवाना होगा। इसके अतिरिक्त मंडल सचिव द्वारा अधिकृत अन्य अधिकारी या दूसरे विभागों के अधिकारी के कार्यालय में भी निर्धारित समय में आवेदन फार्म को जमा करना होगा।

अभ्यर्थी को आवेदन फार्म के साथ में अपने सभी आवश्यक दस्तावेज अटैच करने हैं। अभ्यर्थी श्रमिक सुलभ आवास योजना के लिए अपने नजदीकी ईमित्र पर जाकर ऑनलाइन आवेदन भी कर सकता है। इस योजना के लिए श्रमिक केंद्र या राज्य सरकार के किसी आवास योजना में आवास प्राप्त करने की पात्रता होने के पश्चात ही आवेदन प्रस्तुत कर सकेगा।

Leave a Comment