RAS Shyam Sunder Bishnoi: 11 सरकारी नौकरियां छोड़कर पूरा किया राजस्थान एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस में जाने का सपना

Google News Button

RAS Shyam Sunder Bishnoi Biography: जब तक आप अपने लक्ष्य को हासिल नहीं करते, आप असफल रहते हैं। यह एक कहानी है श्याम सुंदर बिश्नोई की, जो राजस्थान के बीकानेर जिले के एक छोटे से गांव गुलूवाली से हैं। श्याम का सपना एक RAS (Rajasthan Administrative Service) अधिकारी बनने का था। उन्हें कई नौकरियों की पेशकश मिली, लेकिन उन्होंने उन्हें स्वीकार नहीं किया। बिश्नोई ने अपने सपने को पूरा करने के लिए लगातार प्रयास किए, और अंततः उन्होंने RAS परीक्षा पास की।

Delhi-Jaipur-Ajmer Vande Bharat Express: सभी पिछली वंदेभारत से अलग क्यों हैं? जानें इसकी वजह

RAS Shyam Sunder Bishnoi Biography

RAS Shyam Sunder Bishnoi Biography

श्याम सुंदर बिश्नोई किसान परिवार से हैं और उनका जन्म 7 फरवरी 1988 को हुआ था। उनके पिता धूड़ाराम बिश्नोई किसान थे और मां घरेलू काम करती है। उन्होंने अपनी पढ़ाई गांव के सरकारी स्कूल से शुरू की थी। उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा के बाद महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर से ग्रेजुएशन की और उसके बाद MA औप बीएड भी किया।

श्याम की हायर एजुकेशन स्पष्ट दर्शाती है कि वे पढ़ाई में बहुत होशियार थे। उन्होंने 11 नौकरियां प्राप्त की हैं। ये नौकरियां इंस्पेक्टर, राजस्थान पुलिस अधिशासी अभियंता, नगर पालिका स्कूल व्याख्याता (भूगोल), जिला परिवहन अधिकारी (डीटीओ) और ग्राम सेवक के ऑपरेटिव इंस्पेक्टर, असिस्टेंट प्रोफेसर (कॉलेज शिक्षा), कांस्टेबल सीआईडी (राजस्थान पुलिस) और अन्य हैं।

श्याम ने जिन 11 नौकरियों को प्राप्त किया है, उनमें बाकी नौकरियां शामिल हैं। उन्होंने पटवारी, राजस्व मंडल, शिक्षक ग्रेड तृतीय (सामाजिक विज्ञान), शिक्षक ग्रेड द्वितीय (अंग्रेजी) की पदों को भी प्राप्त किया। अंततः, उन्होंने अंत में एक आरएएस अधिकारी के रूप में भी नौकरी प्राप्त की। बिश्नोई ने अपने सपने को पूरा करने के लिए लगातार प्रयास किए हैं। उनकी कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि कोशिश करने वालों कभी हार नहीं माननी चाहिए।

Leave a Comment