मात्र 3000 रुपये में खरीदे चांद पर एक एकड़ जमीन, जानें खरीदने का प्रोसेस

Google News Button

Buy Land on Moon From india:चाँद पर ज़मीन की कीमतें बहुत सस्ती हैं। चंद्रमा पर जमीन की कम लागत के बावजूद, अब तक बहुत कम लोगों ने इस अद्भुत अवसर का लाभ उठाया है।

How to buy land on moon: जैसा कि आपने सुना होगा, कई लोग पहले ही चंद्रमा पर जमीन खरीद चुके हैं। हालाँकि, क्या आप जानते हैं कि चंद्रमा पर जमीन का क्या मूल्य है? आपके लिए यह दिलचस्प तथ्य हो सकता है कि चांद पर एक एकड़ जमीन की कीमत सिर्फ 3,000 रुपये है। हम आपको विस्तार से बताएंगे कि इसकी क्या वजह हो सकती है.

Buy Land on Moon From india

ऐसा सुनने को मिलता है कि कई लोगों ने चांद पर जमीन खरीदी है. कभी इस लिस्ट में सुपरस्टार एक्टर शाहरुख खान शामिल होते हैं तो कभी चांद पर जमीन खरीदने वाले सुशांत सिंह राजपूत का नाम भी आता है. 2018 में सुशांत सिंह राजपूत ने चांद पर जमीन खरीदी थी. इसी बीच बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान को उनके एक फैन ने चांद पर जमीन का टुकड़ा गिफ्ट किया है।

How To Buy Land on Moon

जानकारी के मुताबिक, इंटरनेशनल लूना एसोसिएशन और इंटरनेशनल लूनर लैंड रजिस्ट्री दो ऐसे संगठन हैं जो दावा करते हैं कि वे चांद पर जमीन बेच सकते हैं। 2002 में हैदराबाद के राजीव बागड़ी और 2006 में बेंगलुरु के ललित मोहता ने इन कंपनियों से चांद पर जमीन के प्लॉट खरीदे थे। उन्हें यकीन है कि आने वाले दिनों में चांद पर रहने का सुनहरा मौका मिल सकता है। सुशांत सिंह ने चंद्रमा पर जमीन खरीदने का भी फैसला किया और उन्होंने जो जमीन खरीदी वह चंद्रमा पर “सी ऑफ मसकोवी” क्षेत्र में स्थित है।

Price of 1 acre land on moon

LunarRegistry.com के मुताबिक, चांद पर एक एकड़ जमीन की कीमत 37.50 डॉलर यानी करीब 3,112.52 रुपये है। परिणामस्वरूप कम लागत के कारण, लोग भावनाओं में बहकर इसके बारे में ज्यादा नहीं सोचते हैं। और जब जमीन की कीमत तय होती है तो ये सवाल भी उठता है कि चांद का मालिक कौन है? 1967 की बाह्य अंतरिक्ष संधि के अनुसार, किसी भी देश या व्यक्ति को चंद्रमा या किसी अन्य ग्रह पर स्वामित्व का अधिकार नहीं है। चांद पर किसी भी देश का झंडा फहराने की आजादी हो सकती है, लेकिन चांद पर किसी और का मालिकाना हक नहीं है।

चांद पर जमीन की बिक्री कानूनी या गैरकानूनी?

अंतरराष्ट्रीय संगठनों का मानना ​​है कि चंद्रमा पर कानूनी तौर पर किसी का स्वामित्व नहीं हो सकता, क्योंकि पृथ्वी के बाहर की दुनिया मानवता की विरासत है। इससे किसी विशेष देश का अधिकार नहीं हो सकता। 1967 की बाह्य अंतरिक्ष संधि के अनुसार किसी भी देश या व्यक्ति का किसी भी ग्रह या उसके उपग्रह पर कोई अधिकार नहीं है। 110 देशों के साथ भारत ने भी इसका समर्थन किया है. नियामक अधिकारों के बिना, कुछ कंपनियां चंद्रमा पर उतरने का दावा करती हैं, जो अवैध वसूली का एक रूप हो सकता है।

चंद्रमा पर जमीन का क्या मूल्य है?

चांद पर एक एकड़ जमीन की कीमत सिर्फ 3,000 रुपये है।

चांद पर जमीन कैसे खरीदें

इंटरनेशनल लूना एसोसिएशन और इंटरनेशनल लूनर लैंड रजिस्ट्री दो ऐसे संगठन हैं जो चांद पर जमीन बेचते है।

Leave a Comment